Chanakya Facts In Hindi | चाणक्य के जीवन से जुडी कुछ रोचक बाते |

Chanakya Facts In Hindi chanakya Image__1552249458_106.215.171.28

Chanakya Facts In Hindi – नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है सिंह फैक्ट डॉट कॉम पर दोस्तों इस पोस्ट मै आप जानेगे की Chanakya Ke Baare Mein  और Chanakya Neeti से जुडी उनकी कुछ बातो को भी

विष्णु गुप्त  चाणक्य भारतीय अर्थशास्त्री और एक  बेहतरीन शिक्षक, और राजनैतिक सलाहकार थे. मौर्य साम्राज्य के विस्तार में विष्णु गुप्त आचार्य चाणक्य ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी

वे कौटिल्य के नाम से भी जाने जाते है इस लेख मै हम आचार्य  चाणक्य के बारे मै और उनके जीवन से जुडी कुछ रोचक बाते | Facts About Chanakya Hindi लेकर आये हैं, हम आशा करते हैं आपको यह बाते पसंद आयेंगे

 

आचार्य चाणक्य की 14 रोचक बातें / Interesting Facts About Chanakya Hindi

 

  • आचार्य चाणक्य का जन्म प्राचीन भारतवर्ष में ईसा पूर्व 350 को हुआ. उनके जन्मस्थान को लेकर विवाद हमेशा चलता आया है कुछ लोगो का मानना है की उनका जन्म तक्सिला में हुआ तो वही दूसरी और कुछ लोगो का मानना है की उनका जन्म दक्षिण भारत में हुआ था

 

  •  आचार्य चाणक्य के पिता का नाम कानीन ( चनक) और उनकी माता का नाम कानेस्वरी था चाणक्य उनका यह नाम उनके पिता के नाम से ही लिया गया है

 

  • कौटिल्य की रूचि बचपन से ही राजनीती में थी

 

  •  आचार्य चाणक्य की बुद्धिमत्ता और चतुराई के बदौलत उस समय मौर्य साम्राज्य सबसे विशाल साम्राज्य बन चूका था

 

  •  चन्द्रगुप्त के बाद में आचार्य चाणक्य ने के चन्द्रगुप्त के पुत्र बिन्दुसार को मौर्य साम्राज्य का उत्तराधिकारी बनाया चाणक्य चन्द्रगुप्त के बाद बिन्दुसार के भी राजनैतिक सलाहकार रहे थे

 

  • आचार्य चाणक्य अर्थशास्त्र और आचार्य चाणक्य-निति के लेखन किया है, अर्थशास्त्र इकनोमिक पर लिखी उनकी किताब उस किताब में लिखी उनकी प्रत्येक बात को लोग आज भी अपने जीवन में अपनाते है आचार्य चाणक्य निति में उन्होंने अपने विचारो को बहुत अच्छे से व्यक्त किया है

 

Chanakya Facts In Hindi

 

chanakya image pics
Chanakya Facts In Hindi

 

  • आचार्य चाणक्य के जीवन पर अनेको सीरियल्स और फिल्मे बनाई गयी है

 

  • आचार्य चाणक्य एक ब्राह्मण है इसी वजह से उन्होंने अपनी पढाई प्राचीन भारतीय विश्वविद्यालय तक्षशिला से शिक्षा अर्जित की और बाद में वह तक्षशिला के शिक्षक भी बने

 

  • वह दिखने में सुन्दर नही थे लेकिन ज्ञान के मामले में उनका कोई जवाब नही था

 

  •  जब नंदा साम्राज्य के राजा धनानंदा ने उन्हें अपमानित किया और उन्हें अपने दरबार से बाहर निकाल फैका था तो उन्होंने शपत ली थी की वह राजा धनानंदा को मगद से उखाड़ फेकेगे

 

  • जब धनानंद ने चाणक्य को अपमानित किया उसी दिन उन्होंने अपनी चोटी खोल दी और बोला जब तक नंदा साम्राज्य का विनाश नही कर दूंगा तब तक चोटी नही बांधूगा

 

  • जिस समय वह पिपली वन के राजा के पुत्र चन्द्रगुप्त मौर्य से मिले उस समय चन्द्रगुप्त मौर्य काफी किशोर थे (उस समय उनकी आयु करीब 13 वर्ष थी

 

  • आचार्य चाणक्य ने चन्द्रगुप्त मौर्य को कम उम्र में ही शासन करने का और समाज कल्याण करने का पाठ पढाया था बाद में चन्द्रगुप्त मौर्य ने धनानंदा साम्राज्य का विनाश कर के मौर्य साम्राज्य स्थापित किया. और वह मौर्य साम्राज्य के पहले शासक बने

 

  • आचार्य चाणक्य की मृत्यु ईसा पूर्ण 280 BC में हुई आपको बता दे उनकी मौत को लेकर भी इतिहास में बहुत सी कहानिया प्रचलित हैकुछ लोगो का ऐसा मानना है की सन्यास लेने के बाद वे वन मै चले गये थे और वही उनके प्राण समाप्त हुए वही दूसरी और कुछ कहानियो का ऐसा मानना भी है की बिन्दुसार के दरबार में किसी से आपसी झगडे के कारण उनकी मौत हुई

 

दोस्तों आपको यह   Chanakya Facts In Hindi आचार्य चाणक्य के बारे मै और उनके जीवन से जुडी कुछ रोचक बाते | Facts About Chanakya Hindi  की जानकारी   कैसी लगी हमे कमेंट के माध्यम से जरुर बताये और इस  जानकारी  को  Facebook  Whatsapp  Instagram   Twitter पर शेयर जरुर करे और हमारे फेसबुक पेज को यहाँ से Like कर हमे सुपोर्ट करे  -धन्यवाद और सतश्रीअकाल

यह भी देखे

 

Share

About Singh Fact

सतश्रीअकाल दोस्तों मेरा नाम हरप्रीत सिंह है | सिंह फैक्ट डॉट काम मै आपका स्वागत है यहाँ पर आपको पढने के लिए मिलेगे रियल फैक्ट्स एंड स्टोरीज इन हिंदी मै और पंजाबी स्टेटस और शायरी , बस आप लोगो के प्यार और सपोर्ट की जरूरत है वह देते रहिये

View all posts by Singh Fact →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.