shayri

Motivational Shayari in Hindi

प्रेरणादायक हिन्दी शायरी – Motivational Shayari In Hindi यह ऐसी शायरी है जो आपको पढने में तो अच्छी लगेगी ही पर उसके साथ आपमें जोश भी भर देगी.दोस्तों जिन्दगी में मोटिवेशन होना बहोत जरुरी है जब जब हम डीमोटिवेट होते है तब हमे लगता है की हम कुछ नहीं कर सकते जो की गलत होता है

अगर हम यही सोचते रहेगे की हम कुछ नहीं करते तो हम सच में कुछ नहीं कर पायंगे ,क्योकि ये तो एक फैक्ट है हम जेसा सोचते है हम वेसे ही बन जाते है तो इसलिए हमेशा अच्छा सोचिये और दिन भर मोटिवेट रहिये Two Line Motivational Shayari in Hindi

 

यह मत सोच की जिन्दगी में कितने पल है

यह सोच की हर पल में कितनी जिन्दगी है

 

बुरे वो लोग नहीं है जो आपको बुरा कहते है

बुरा आपका दिमाग है जो उनकी बात मान लेता है

 

मेहनत में नहीं करता

रहमत तू नहीं करता

 

बुरे वक़्त में कुछ लोग खुद टूट जाते है

कुछ लोग रिकॉर्ड तोड़ देते है

 

उच्चा उड़ने के लिए पंखो की जरूरत पंछियों को होती है

इंसान तो जितना नीचे झुकता है उतना ही ऊपर जाता है

 

तकदीर बदल जाती है जब होता है जिंदगी का कोई मकसद

वर्ना उम्र कट जाती है तकदीर को इलज़ाम देते देते

 

अगर आपके साथ चमत्कार नहीं हो सकता

तो खुद एक चमत्कार बन जाईये

 

बुरा वक़्त सबका आता है

कोई बिखर जाता है कोई निखर जाता है

 

अगर आप तक उस आदमी की तलाश में हो जो आपकी जिन्दगी बदलेगा

तो एक बार आइना जरुर देखो

 

भरोसा खुद पर रखो तो आपकी ताकत बन जाता है

दुसरो पर रखो तो कमजोरी बन जाता है

 

वक़्त से लड़ कर अपना नसीब बदल दे ,इंसान वो है जो अपनी तकदीर बदल दे

कल क्या होगा उसकी कभी मत सोचो क्या पता कल वक़्त खुद अपनी लकीर बदल दे

 

सक्सेस से दुनिया हमे जानती है ,और

फेलियर से हम दुनिया को पहचानते है

 

मेहनत इतनी ख़ामोशी से करो

की सफलता शोर मचा दे

 

इंसान अपने काम से  ही महान बनता है

पैदा होते ही कोई इंसान महान नहीं होता

 

भरोसा अगर भगवान् पर है तो जो तकदीर में लिखा है वही पाओगे

भरोसा अगर खुद पर है तो भगवान् भी वही लिखेगा जो आप चाओगे

 

खामोश रहता हू, क्योकि अभी दुनिया को समझ रहा हू, समय जरुर लूँगा

पर जिस दिन दाव खेलूँगा उस दिन खिलाडी भी मेरे होगे और खेल भी मेरा

 

जीतने का मज़ा तभी आता है जब सब

आपके हारने का इंतजार कर रहे हो

 

अपने गम की नुमाइश ना कर ,अपने नसीब की अजमाइश ना कर !

जो तेरा है तेरे पास खुद चल कर आयेगा ,उसे पाने की ख्वाइश ना कर !

 

जमीर जिन्दा रख ,कबीर जिन्दा रख ,

सुलतान भी बन जाये तो, दिल में फ़कीर जिन्दा रख

हौसलों की तरकश में  कोशिश का वो तीर जिन्दा रख,

हार जा चाहे जिन्दगी में  सब  कुछ

मगर फिर से वो जीतने की उमींद  जिन्दा रख !

 

दोस्तों अगर आपको ये शायरी केसी लगी कमेंट में जरुर बताये ,अगर अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे धन्यवाद् .

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...